Chanakya Niti in Hindi | Chanakya की 10 बातें जो आपकी जिंदगी बदल सकती हैं

chanakya-niti-in-hindi
Chanakya Niti in Hindi  
Chanakya Niti in Hindi:आचार्य Chanakya हमारे देश के एक महान विद्वान रहे हैं, जिनके शब्दों का उल्लेख आज भी उतना ही प्रासंगिक है जितना कि उनके समय में था। Chanakya, जिसने अपनी कूटनीति के माध्यम से, साधारण चंद्रगुप्त को मगध का राजा बनाया। Chanakya ने "Chanakya Niti" नामक पुस्तक लिखी। जिसमें ऐसी बातें कही गई हैं जो हमारे जीवन को एक महत्वपूर्ण मोड़ दे सकती हैं।
चाणक्य नीति "Chanakya Niti" पुस्तक में जीवन जीने का सही तरीका बताता है। हमें अपने जीवन में क्या करना है और क्या नहीं? उनका बहुत अच्छा वर्णन Chanakya की Niti में मिलता है। आचार्य Chanakya द्वारा बताई गई 10 बातों , मैं आज यहां आपके साथ Share कर रहा हूं, जो आपके जीवन में महान परिवर्तन ला सकते हैं।

Chanakya Tips 01 | मूर्ख पर कभी चर्चा न करें | Never Discuss a Fool


Chanakya कहते हैं कि हमें कभी भी मूर्ख लोगों के साथ बहस नहीं करनी चाहिए। बेवकूफ लोगों को कोई मतलब नहीं है, अगर आप उनके साथ विवाद करते हैं, तो नुकसान आपका होगा। यदि आप इन लोगों के साथ बहस करते हैं, तो आपका सम्मान कम हो जाएगा। ये लोग आपको मानसिक रूप से कमजोर कर सकते हैं। यदि आप बेवकूफ लोगों के साथ विवादों से बचना चाहते हैं, तो बंद करें और अपने विवेक का उपयोग करें। इसलिए कभी भी मूर्ख की चर्चा न करें।
chanakya-niti-in-hindi
Chanakya Niti 

Chanakya Tips 02 | अपनी कमजोरी किसी को मत बताना | Do Not Tell Your Weakness to Anyone

अधिकांश लोग अपनी कमजोरियों को अपने करीबी रिश्तेदारों को उजागर करते हैं, जो उसे बहुत महंगा परते हैं। जब आपका जन्म होता है तब आप सिर्फ अकेले होते है. पैदा होते ही आपके सांसारिक रिश्ते शुरू हो जाते है. समय के साथ आप कई गहरे रिश्ते में बध जाते हो. ऐसे में हम अपनी कमजोरी अपने इन रिश्तो में बता देते है.
जो बाद में अन्य लोगो को भी पता चल जाती है. जो हमारे निजी जीवन के लिए ठीक नहीं होता. हर व्यक्ति की कोई न कोई कमजोरी जरुर होती है. ऐसे में कभी भी अपनी कमजोरी किसी को भी न बताये. चाहे वह आपका दोस्त या आपकी पत्नी ही क्यों न हो. अपनी आत्मा के सम्मान के लिए इससे बचे.

Chanakya Tips 03 | आपका एक दोष आपके सभी गुणों को नष्ट कर सकता है | One of Your Faults Can Destroy All Your Qualities


जीवन में ऐसे कई उदाहरण देखने को मिलते हैं जब लोग सुख, सुविधा, धन और संपत्ति होने के बावजूद ऐसी गलती करते हैं कि उनका स्वर्गीय जीवन नरक बन जाता है। इसका क्या कारण है? हमारे एक दोष के कारण। भले ही आपके पास कई गुण हों। आपके पास अच्छा व्यवहार है, आप दयालु हैं, आप एक सामाजिक कार्यकर्ता हैं या आप पैसे के व्यक्ति हैं।
आपके समाज में बहुत सम्मान है। लेकिन अगर आपके अंदर एक छोटी सी भी खराबी है, तो यह आपके जीवन को बर्बाद कर देगा। दोष जैसे - विषाक्तता, अपवित्रता, घमंड या जुआ। इसलिए, अपने आप को देखें और देखें कि क्या आप में कोई दोष है। यदि हां, तो इसे त्याग दें। अन्यथा, आपकी मेहनत से पैदा किया गया सारा सम्मान एक पल में जमीन पर होगा।
chanakya-niti-in-hindi
Chanakya Niti


Chanakya Tips 04 | पैसा बुद्धिमानी से खर्च करें | Spend Money Wisely


आपने यह वाक्यांश सुना होगा : "धन जीवन है", धन के बिना, हम सभी गरीब हैं। यह पूरी तरह से अधिवास की बात है। धन या समृद्धि के बिना कोई सम्मान नहीं है। धन हमारे जीवन में एक विशेष भूमिका निभाता है। ऐसे कई लोग हैं जो इस धन का दुरुपयोग करते हैं। वे एक महान मेहनात के साथ पसीना बहाते हैं और फिर उस पैसे को धुएं के रूप में खर्च करते हैं। मैंने ज्यादातर लोगों को देखा है जो दिन भर मजदूरों के रूप में काम करते हैं और रात में शराब पीकर अपनी कमाई बर्बाद करते हैं।
अगर आपको बर्बाद करना है, तो मेहनत का क्या फायदा? यदि आपके पास अधिक पैसा है, तो इसे सीमा के साथ खर्च करें। समय पता नहीं कब पलट जाए। आचार्य Chanakya की इस पंक्ति को याद रखें "यदि कुबेर भी अपनी आय से अधिक खर्च करते हैं, तो वे गरीब हो जाएंगे।" इसलिए पैसा कमाएं, इसे बचाएं और जरूरत पड़ने पर ही खर्च करें।

Chanakya Tips 05 | बदनामी का डर | Fear of Slander


आचार्य Chanakya कहते हैं कि अपमानित होकर जीने से मरना अच्छा है। मृत्यु केवल दुःख का क्षण देती है, लेकिन अपमान हर दिन जीवन में दुःख लाता है। ” हम सभी के भीतर बदनामी का डर होना चाहिए। अगर यह डर खत्म हो गया, तो दुनिया में खलबली मच जाएगी। जीवन का सबसे बड़ा दर्द बदनाम है। यह जीवन के प्रत्येक क्षण में व्यक्ति की मृत्यु का कारण बनता है।
ऐसा तब होता है जब हमारी आत्मा भी हमें बताती है कि आप गलत हैं और आपने गलत किया है। जीवन में कोई ऐसा काम न करें जिससे आपको बदनामी के साथ जीवन भर रहना पड़े। एक बार जब आप कुख्यात होते हैं, तो आप पहले की तरह लोगों की आंखों में नहीं लौटेंगे। इसलिए जीवन में बड़ा कदम उठाने से पहले एक हजार बार जरूर सोचें।
chanakya-niti-in-hindi
Chanakya Niti in Hindi 


Chanakya Tips 06 | आलस्य छोड़ें | Skip Laziness

इस दुनिया में केवल 20% लोग ऐसे हैं जो सफलता की श्रेणी में आते हैं। लेकिन दुनिया में लोग 100% हैं, तो ये 80% लोग असफल क्यों हैं? अब वह कहेगा कि उन्होंने अच्छी शिक्षा प्राप्त की होगी या उनके पिता और दादा अच्छे घर से होंगे। बुरा नहीं है, आज ऐसे कई उदाहरण हैं जिनमें लोगों ने जमीन से आकाश को छुआ है।
जो लोग गरीब जीवन जीते हुए बहुत अमीर हो गए। आलस से इस सब में एक बड़ा अंतर है। 80% लोग कुछ करने के लिए आलसी होते हैं, 20% लोग वही काम बहुत मन से करते हैं। इसलिए, यदि आप जीवन को बेहतर और खुशहाल बनाना चाहते हैं, तो आलस्य सीखें और कड़ी मेहनत करें। याद रखें "आलसी आदमी का कोई वर्तमान या भविष्य नहीं है।

Chanakya Tips 07 | विश्वास मत करो जो तुम नहीं सुनते हो | Don't Believe What You Don't Hear

आपने कई लोगों को देखा होगा जो आपके साथ बैठे हैं। हम आपसे बात करते हैं यदि आपने अपने लिए एक महत्वपूर्ण पट्टी को बचाया है और ध्यान से सुनने के बजाय अनदेखा करते हैं, तो समझ लें कि यह व्यक्ति निश्चित रूप से आपको धोखा देगा। उन लोगों पर भरोसा करने से बचें। बस इन लोगों को बताएं कि आप सभी के साथ क्या साझा कर सकते हैं।
उन लोगों के साथ अपनी व्यक्तिगत या महत्वपूर्ण चीजें करने से बचें। अगर आपने उन लोगों से ऐसी महत्वपूर्ण बातें कही हैं, तो समझ लें कि ये चीजें अब आपके लिए निजी नहीं हैं। ये लोग ये बातें दूसरों को भी बताते हैं। इन लोगों में विश्वाश न करें।
chanakya-niti-in-hindi
Chanakya Niti in Hindi 


Chanakya Tips 08 | अपने से अधिक या कम दर्जे के लोगों के साथ दोस्ती न करें | Do Not Befriend People Who Are Higher or Lower Than You


आचार्य Chanakya कहते हैं "उन लोगों के साथ कभी दोस्ती मत करो, जिनकी आपसे ज्यादा या कम प्रतिष्ठा है। ऐसी दोस्ती कभी भी आपको खुश नहीं कर पाएगी।" अगर आप ऐसे लोगों से दोस्ती करते हैं, जिनकी आपसे कम प्रतिष्ठा है, तो आप हमेशा परेशानी में रहेंगे। ऐसे दोस्त हमेशा इंतजार करते रहेंगे। आपकी मदद और वे आपका फायदा उठाने के बारे में सोचेंगे। यदि आप कभी खुद को परेशानी में पाते हैं, तो वे दोस्त आपकी मदद नहीं कर पाएंगे।
यदि आप अपने से बड़े दर्जे के लोगों के दोस्त बनते हैं, तो आप हमेशा अपने दोस्त से अपनी तुलना करेंगे और ईर्ष्या महसूस करेंगे। आप हमेशा उसके सामने खुद को छोटा मानेंगे, जो आपके आत्मसम्मान के लिए अच्छा नहीं है। यदि वह मुश्किल समय में आपकी मदद नहीं कर सकता है, तो वह आपकी दोस्ती में पागल हो जाएगा। इसलिए ध्यान रखें कि आपका दोस्त आपके स्तर का होना चाहिए।

Chanakya Tips 09 | वर्तमान में जीवन जियो | Live Life in the Present


आचार्य Chanakya कहते हैं: "हमें कभी भूत पर पछतावा नहीं करना चाहिए, न ही भविष्य के बारे में चिंता करनी चाहिए।" बुद्धिमान हमेशा वर्तमान में रहते हैं। ” अगर आप अपना जीवन खुशहाल जीना चाहते हैं, तो आज हमेशा जिएं। आपके पास न तो कल है और न ही कल। आज आपके पास बस इतना ही है। अगर आप पछतावा करते रहे कि क्या हुआ, तो आप दुखी होंगे।
बीता हुआ कल याद आने के बाद वापस आएगा। इसलिए, कल के बारे में सोचना बेकार है। यदि आप कल के आगमन के बारे में सोचते हैं, तो यह भी आपको चिंतित करेगा। भविष्य के बारे में सोचते हुए आज खुद को लाड़-प्यार न करें। आपके पास केवल क्षण है, इसलिए इसे जीएं। इस क्षण को उस कार्य में लगाएं जिससे आपका जीवन बेहतर हो। आप आज भी यात्रा कर रहे हैं, आपका आने वाला कल अपने आप सही हो जाएगा।
chanakya-niti-in-hindi
Chanakya Niti in Hindi 


Chanakya Tips 10 | खुश रहने के लिए, आसक्ति से दूर रहें | Stay Happy Stay Away from Attachment


मानो या न मानो, आज ज्यादातर लोग खाने और पीने के लिए दुखी नहीं हैं, लेकिन अपने रिश्ते के कारण दुखी रहते हैं। जिस व्यक्ति का मन उसके साथ नहीं है वह दुखी रहता है और इस दर्द का कारण आसक्ति है। आचार्य Chanakya कहते हैं: "जो अपने रिश्ते से बहुत जुड़ा होता है उसे भय और चिंता का सामना करना पड़ता है। सभी दुखों की जड़ आसक्ति है।"
जब आप किसी से जुड़ते हैं, तो वे आपको भ्रम और आकर्षण के चक्र में पकड़ लेते हैं, और यही आपके दर्द का कारण है। Chanakya के शब्द वर्तमान परिवेश के अनुकूल हैं। आज हम देख सकते हैं कि आज का युवा एक रिश्ते में रहने लगा है। अपनी युवावस्था में, उन्होंने एक रिश्ते में रहना शुरू कर दिया था और जब इस रिश्ते में कोई छोटा-मोटा विवाद या विवाद होता है, तो वह तनाव महसूस करते हैं। वह अपने साथी को खोने से डरता है और इस चिंता में वह तनाव में डूब जाता है।
अपने लिए जीने के बजाय वे आपसी लगाव में फंस जाते हैं। यदि कोई लगाव नहीं है, तो इसके लिए समय लगेगा। खुद को सुधारें और अपने करियर में सफल हों। इसलिए, यदि आप खुश रहना चाहते हैं, तो उस रिश्ते से बाहर निकलने के बारे में सोचें, जिससे आपको बहुत लगाव है।
दोस्तो! इस लेख में, आचार्य Chanakya की Chanakya Niti में उल्लिखित 10 महत्वपूर्ण बातों को पढ़ें, जिन्हें हम और आप सभी अपने जीवन में आज का सामना करते हैं और यही जीवन का सत्य है। आपने इस लेख से बहुत कुछ सीखा होगा, लेकिन सिर्फ सीखना ही सब कुछ ठीक नहीं करता है। केवल तभी जब आप इन चीजों को अपने जीवन में सीखते हैं।
तो इन 10 Chanakya Tips को अपने जीवन में याद रखें और अपना जीवन बदल दें। Frends, हम आगे भी Chanakya के बारे में कई महत्वपूर्ण बातें आपके साथ Share करते रहेंगे।
Frends,अगर आपको, Chanakya Niti in Hindi | Chanakya की 10 Tips जो आपकी जिंदगी बदल सकती हैं अच्छा लगे तो Frends के साथ Share करना ना भूले ।
दोस्तों अगर आपको हमारी जानकारी अच्छी लगी हो तो Share और Comment करें, इसी तरह के पब्लिकेशन के लिए हमें फॉलो करना ना भूलें।

Post a comment

0 Comments