Good Friday Important Facts Related to Good Friday One Must Know

Good Friday 2020 Date in India: When is Good Friday in 2020, Know History and Significance of Good Friday in India in Hindi

Good Friday 2020
Good Friday 2020 Friday, 10 April

Good Friday 2020: गुड फ्राइडे से जुड़ी 7 महत्वपूर्ण बातें, हर किसी को जाननी चाहिए...

गुड फ्राइडे 2020: गुड फ्राइडे के दिन, ईसा मसीह को सूली पर चढ़ा दिया गया और उनकी जान ले ली गई।

कैसे मनाया जाता है गुड फ्राइडे (Good Friday) - इस दिन, ईसाई धर्म के लोग उपवास करते हैं और प्रभु यीशु की याद में प्रार्थना करते हैं। इस दिन ईसा मसीह के बलिदान को याद किया जाता है। वह उन्हें प्यार और शांति का रास्ता दिखाने का वादा करता है। इस दिन गिरजाघरों में बड़ी संख्या में ईसाई धर्म के लोग प्रार्थना करते हैं। लेकिन गुड फ्राइडे (Good Friday) के दिन चर्च में घंटा नहीं बजाया जाता, बल्कि वहां लकड़ी के खटखटे बजाए जाते हैं। इस दिन चर्च में झांकी होती है। साथ ही, इस दिन ईसा मसीह की अंतिम सात प्रार्थनाओं को विशेष रूप से समझाया गया है, जो क्षमा, सामंजस्य, सहायता और बलिदान पर केंद्रित हैं। प्रभु यीशु को क्यों सूली पर चढ़ाया गया था? येरूशलम में गलील प्रांत में, यीशु मानवता, एकता और अहिंसा के लोगों को सिखा रहा था। लोग उन्हें भगवान मानने लगे। लोगों के बीच यीशु की बढ़ती लोकप्रियता कुछ धार्मिक नेताओं के लिए आकर्षक नहीं थी। उन्होंने यीशु को रोम के शासक पिलातुस को सूचित किया। यीशु मसीह पर धर्म की अवमानना ​​के लिए राजद्रोह का आरोप लगाया गया था। इसके बाद, यीशु को एक क्रूज जहाज पर मौत देने का फरमान मिला। यीशु को कई तरह की शारीरिक यातनाएँ दी गईं

यह भी पढ़ें - Hanuman Jayanti 2020 - How Can Hanuman Save Us from Diseases

गुड फ्राइडे 2020: गुड फ्राइडे (Good Friday) के दिन, ईसा मसीह को सूली पर चढ़ा दिया गया और उनकी जान ले ली गई। गुड फ्राइडे (Good Friday) त्योहार पर यह बलिदान और  उनकी सीखों याद किए जाते हैं।

  • Good Friday 2020 in India Friday, 10 April

गुड फ्राइडे (Good Friday) को मनाते हुए हर साल कई परंपराओं का पालन किया जाता है। इस गुड फ्राइडे (Good Friday) आपको इन तथ्यों को भी जानना चाहिए, जो इस विशेष दिन से संबंधित हैं।


Good Friday 2020 Good Friday 2020 Friday, 10 April

गुड फ्राइडे (Good Friday) के दिन ईसाई समुदाय के लोग व्रत रखते हैं। प्रसाद स्वरूप गर्म मीठी रोटियां खाते हैं।

- गुड फ्राइडे (Good Friday) के दिन लोग चर्च में घंटों नहीं खेलते हैं। इस दिन विशेष पूजा अर्चना की जाती है। ध्वनि लकड़ी की लकड़ी के खटखटे से आवाज की जाती है

- मौत से पहले ईसा को प्रताड़ित किया गया था। उन्होंने उसके सिर पर कांटों का मुकुट रख दिया। गोल गोत्र नामक स्थान को क्रूस पर चढ़ाया गया था।

- अपना जीवन देने से पहले, यीशु ने कहा: ‘हे ईश्‍वर! मैं अपनी आत्‍मा को तेरे हाथों में सौंपता हूं.’

- हर साल गुड फ्राइडे (Good Friday) पर चर्च और घर की सजावट को हटा दिया जाता है या कपड़ों से ढंक दिया जाता है।

कई लोग इस बलिदान के लिए ईसा मसीह का आभार व्यक्त करते हुए 40 दिनों का उपवास भी करते हैं, जिसे 'लेंट' कहा जाता है।

- गुड फ्राइडे (Good Friday) के तीसरे दिन यानी उसके अगले संडे को ईसा मसीह दोबारा जीवित हो गए थे, इसे ईस्टर संडे कहते है.


Good Friday Important Facts Related to Good Friday One Must Know

Final words - Entertainment, Sarkari Job Alert, Education News in Hindi की Update खबर सब से पहले प्राप्त करने के लिए हमारी वेबसाइट www.onlinenews.live से जुड़े रहे

Tags - good friday,good friday onlinenews in hindi, good friday 2020, good friday 2020 date in india, good friday India, good friday history, history of good friday, when is good friday, when is good friday in 2020

Post a comment

0 Comments