HDFC बैंक ने EMI के भुगतान पर ग्राहकों को दी राहत, अब EMI का घट जाएगा बोझ

HDFC बैंक ने ग्राहकों को दिया बड़ा तोहफा, अब EMI का घट जाएगा बोझ


HDFC बैंक ने EMI के भुगतान पर ग्राहकों को दी राहत, अब EMI का घट जाएगा बोझ
HDFC Bank

HDFC ने अपने ग्राहकों को दी खुशखबरी,अब EMI का घट जाएगा बोझ, जान लें अतिरिक्त ब्याज की शर्त

भारतीय रिजर्व बैंक ने कोविद -19 संकट के दौरान अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए पिछले महीने रेपो रेट में 0.40 प्रतिशत की कमी की थी।

होम फाइनेंस कंपनी एचडीएफसी (HDFC) ने शुक्रवार को कर्जदारों को बड़ी राहत देने की घोषणा की। कंपनी ने ब्याज दरों में 0.20 प्रतिशत की कमी की है। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया जैसे शीर्ष बैंकों द्वारा ब्याज दरों में कटौती के बाद एचडीएफसी (HDFC) ने यह फैसला किया है। एचडीएफसी (HDFC) ने एक बयान जारी कर कहा: "एचडीएफसी (HDFC)" ने होम लोन पर अपनी रिटेल प्रीफ़ेन्शियल इंटरेस्ट रेट (आरपीएलआर) में 0.20 की कमी की है। यह 12 जून, 2020 तक प्रभावी रहेगा।" कंपनी ने कहा है कि यह कमी ब्याज दरों से एचडीएफसी (HDFC) के सभी मौजूदा रिटेल और होम लोन और नॉन-होम लोन ग्राहकों को लाभ होगा।

ये भी पढ़ें - HDFC Bank ने लॉन्च की समर ट्रीट्स स्कीम, आसान EMI समेत मिलेंगे कई ऑफर्स
कंपनी ने कहा है कि मौजूदा वेतनभोगी होम लोन ग्राहकों के लिए नई ब्याज दरें 7.65-7.95 प्रतिशत के बीच रहेंगी। पिछले कुछ महीनों में, बैंकिंग व्यवस्था में ब्याज दरों में उल्लेखनीय कमी आई है, क्योंकि केंद्रीय बैंक ने सुस्त अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए प्रमुख नीतिगत दरों में भारी कटौती की है।

भारतीय रिजर्व बैंक ने इस कोविद -19 संकट के दौरान अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए पिछले महीने रेपो रेट में 0.40 प्रतिशत की भारी कमी की थी। इसके साथ, रेपो रेट 4 प्रतिशत के निम्न रिकॉर्ड पर पहुंच गई।

इससे पहले, बैंक ऑफ बड़ौदा (BoB), यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (UBI) और HDFC बैंक ने भी एमसीएलआर (MCLR) के आधार पर ब्याज दरों में कमी की थी। एचडीएफसी (HDFC) बैंक ने सभी अवधि के लिए एमसीएलआर (MCLR) में 0.05 प्रतिशत की कमी की है। वहीं, BoB ने एमसीएलआर (MCLR) में 0.15 प्रतिशत और UBI ने 0.10 प्रतिशत की कमी की है।

बिजनेस न्यूज की नवीनतम समाचार, Business Knowledge,Banking,Insurance, Savings & Investment की Latest online news सबसे पहेले पढ़ें Onlinenews.live पर

यह भी पढ़ें - Fixed Deposit के बदले मिलती है ओवरड्राफ्ट की सुविधा,जाने इससे जुड़ी हर बातें

Post a comment

0 Comments