Health Insurance - स्वास्थ्य बीमा लेते समय इन बातों का रखें ध्यान, होगा लाभ

Health Insurance - स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी खरीदते समय इन बातों का रखें ध्यान, सही प्लान चुनने में मिलेगी मदद


Health Insurance - स्वास्थ्य बीमा लेते समय इन बातों का रखें ध्यान, होगा लाभ
Health Insurance

Health Insurance पॉलिसी खरीदते समय इन पांच बातों का रखें ध्यान

Health Insurance कई बीमा योजनाओं में, पॉलिसी की अधिकतम पॉलिसी टर्म के दौरान प्रीमियम को एक साथ कवर करने पर डिस्काउंट की पेशकश की जाती है। 

वर्तमान में, स्वास्थ्य खर्च में काफी वृद्धि हुई है। नई बीमारियां और उनका महंगा इलाज किसी को भी आर्थिक संकट में धकेल सकता है। स्वास्थ्य बीमा (Health Insurance) केवल इस तरह की आकस्मिकताओं से बचने के लिए आवश्यक है। वेतनभोगी कर्मचारी आम तौर पर कार्यालय से मेडिक्लेम प्राप्त करते हैं, लेकिन रिटायरमेंट के बाद स्वास्थ्य बीमा (Health Insurance) जरूर करवा लेना चाहिए। हेल्थ इंश्योरेंस लेते समय कुछ बातों का ध्यान हमेशा रखना चाहिए। 

ये भी पढ़ें - Health Insurance Policy क्लेम हो सकता है रिजेक्ट, ध्यान रखें ये बातें


आइये उन बातों के बारे में जानते हैं, जिनका आपको हेल्थ इंश्योरेंस (Health Insurance) लेते समय ध्यान रखना चाहिए.


को-पमेंट क्लॉज - Co-payment clause

को-पमेंट भुगतान वह भुगतान होता है, जिसे खुद पॉलिसीधारक को बीमित सेवाओं के लिए करना होता है। को-पेमेंट की राशि पहले से तय होती है। वरिष्ठों के लिए उपलब्ध अधिकांश बीमा योजनाएं को-पेमेंट के अधीन होती हैं। ग्राहक को वह बीमा योजना का चयन करना चाहिए, जिसमें उसे कम से कम को-पमेंट देना पड़े। हालांकि, ग्राहक को-पमेंट की स्थिति को खत्म करने का विकल्प भी चुन सकते हैं, लेकिन इसके लिए उन्हें अतिरिक्त प्रीमियम का भुगतान करना होगा।


प्रतीक्षा अवधि - Waiting Period

कुछ कंपनियों की पॉलिसीज में बीमाधारक की मौजूदा बीमारी को कवर करती हैं और कुछ में नहीं। इसलिए, स्वास्थ्य बीमा (Health Insurance) लेने से पहले, ग्राहक को यह देखना होगा। हमेशा बीमा योजना का चयन करें जो कम वेटिंग पीरियड में बीमाधारक की वर्तमान बीमारी को कवर करती है।


एकमुश्त प्रीमियम पर डिस्काउंट

कई बीमा योजनाओं में, पॉलिसी टर्म के दौरान प्रीमियम को एक साथ कवर करने के लिए छूट की पेशकश की जाती है। पॉलिसी टर्म अधिकतम तीन वर्ष हो सकती है। ग्राहक एकमुश्त जमा करके इस छूट का लाभ उठा सकते हैं।


भुगतान की सीमा - Payment limit

कई बीमा कंपनियों की पॉलिसी में, पॉलिसीधारक को एक सीमा के बाद कमरे या आईसीयू के लिए भुगतान करना पड़ता है। ग्राहक को वह बीमा पॉलिसी चुननी चाहिए जो अस्पताल में भर्ती होने की कुल लागत को कवर करती है।


गंभीर बीमारियों के लिए क्लेम राशि

कई बीमा कंपनियों की पॉलिसी में, कुछ गंभीर बीमारियों के क्लेम की राशि अपेक्षाकृत कम होती है। बीमा (Health Insurance) लेने से पहले ग्राहक को इसके बारे में पता होना चाहिए। ग्राहक को सभी दस्तावेजों को सावधानीपूर्वक पढ़ना चाहिए, जिसमें गंभीर बीमारी कवर की सूची भी शामिल है, ताकि बाद में क्लेम की परिस्थितियों से इनकार न किया जाए।

बिजनेस न्यूज की नवीनतम समाचार, Business Knowledge,Banking,Insurance, Savings & Investment की Latest online news सबसे पहेले पढ़ें Onlinenews.live पर

यह भी पढ़ें - PF Account के साथ कर्मचारियों को मिलती है Insurance, Loan और Pension की भी सुविधा

Post a comment

0 Comments