अपनी बेटी के उज्ज्वल भविष्य के लिए सुकन्या समृद्धि योजना (SSY), में निवेश कर बन सकती है करोड़पति, पढ़ें पूरी खबर

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) में बेटी की उज्ज्वल भविष्य के लिए निवेश कर 21 साल की होने पर बन सकती है करोड़पति

Sukanya Samriddhi Yojana
सुकन्या समृद्धि योजना (SSY)

सुकन्या समृद्धि योजना - Sukanya Samriddhi Yojana 

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) में निवेश करके भी आयकर छूट का दावा किया जा सकता है। इस योजना में प्रति वर्ष 1.5 लाख तक का निवेश आयकर छूट के लिए पात्र है।

सभी माता-पिता का सपना होता है कि उनके बच्चे अच्छी शिक्षा प्राप्त करें और उनका भविष्य उज्ज्वल हो, लेकिन महंगाई के इस युग में महंगी उच्च शिक्षा हर किसी के लिए आसान नहीं है। वहीं, माता-पिता बेटियों की शादी के लिए पैसे जमा करने को लेकर चिंतित हैं। ऐसी स्थिति में, सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) माता-पिता के लिए बहुत मददगार हो सकती है। माता-पिता इस योजना में छोटे निवेश करके अपनी बेटी के भविष्य को उज्ज्वल बना सकते हैं। यह सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) केवल बेटियों के लिए है। इस लोकप्रिय योजना में लॉन्ग टर्म निवेश शामिल हैं।

ये भी पढ़ें - सरकार ने Sukanya Samriddhi Yojana नए खाते खोलने की नियमों में दी राहत, उठाएं फायदा

माता-पिता सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) में निवेश करके अपनी बेटी की उच्च शिक्षा और शादी के खर्च को आसानी से कवर कर सकते हैं। इस योजना में, बेटी के 21 वें जन्मदिन पर रिटर्न पाया जा सकता है। योजना के नियमों के अनुसार, यदि माता-पिता कम उम्र में योजना में निवेश करना शुरू करते हैं, तो वे योजना में 15 साल तक निवेश कर सकते हैं।

आयकर में छूट - Income Tax Exemption

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) में निवेश करके भी आयकर छूट का दावा किया जा सकता है। इस योजना में प्रति वर्ष 1.5 लाख तक का निवेश आयकर छूट के लिए पात्र है। इसलिए, माता-पिता आयकर अधिनियम की धारा 80 सी के तहत इस योजना में निवेश के लिए आयकर छूट का लाभ उठा सकते हैं। खास बात यह है कि इस योजना में ब्याज आय और परिपक्वता राशि भी कर मुक्त है।


सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) में कम से कम 1,000 रुपये जमा किए जा सकते हैं

जमा की सीमा - Deposit Limit

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) में कम से कम 1,000 रुपये जमा किए जा सकते हैं। वहीं, अधिकतम 1.5 लाख रुपये जमा किए जा सकते हैं। सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) के तहत, रुपये महीने या साल में किसी भी समय जमा किए जा सकते हैं। खाताधारक उच्च शिक्षा के लिए आंशिक निकासी भी कर सकते हैं जब वे अपने दसवीं कक्षा पास करते हैं या 18 साल पूरे करते हैं।

ब्याज दर - Interest Rate

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) के लिए ब्याज दर सरकार द्वारा हर तीन महीने में निर्धारित की जाती है। सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) में वर्तमान में 7.6 प्रतिशत की दर से ब्याज मिलता है। इस योजना में, खाता खोलने के समय, जिस ब्याज दर को बनाए रखा जाता है, उसी दर पर, निवेश अवधि के दौरान ब्याज का भुगतान किया जाता है। इसका मतलब यह है कि अगर किसी ने अप्रैल और जून 2020 के बीच SSY अकाउंट खोला है, तो उन्हें निवेश अवधि के दौरान 7.6 प्रतिशत की दर से ब्याज मिलता रहेगा।

SSY कैलकुलेटर - SSY Calculator

अगर कोई माता-पिता अपनी बेटी की एक साल की आयु होने पर सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) अकाउंट में हर महीने 12,500 रुपये अर्थात साल भर में 1.5 लाख रुपये निवेश करते हैं, तो SSY कैलकुलेटर के हिसाब से बेटी की 21 साल की आयु होने पर कुल मैच्योरिटी राशि 63.7 लाख रुपये हो जाएगी। इसमें 41.29 लाख रुपये की कुल ब्याज आय शामिल है। वहीं, अगर मां और पिता दोनों बेटी के लिए निवेश करते हैं, तो 21 साल की उम्र में कुल मैच्योरिटी राशि 1.27 करोड़ रुपये तक पहुंच सकती है। इस गणना में, जमा अवधि 15 वर्ष है और मैच्योरिटी अवधि 21 वर्ष है।

बिजनेस न्यूज की नवीनतम समाचार, Business Knowledge,Banking,Insurance, Savings & Investment की Latest online news सबसे पहेले पढ़ें Onlinenews.live पर

ये भी पढ़ें - शुरू करना चाहते हैं बिजनेस, तो इन योजनाओं से मिलेगा आपको लोन

Post a comment

0 Comments