Manage Financial Crisis - कोरोना महामारी में कैसे करें अपनी वित्तीय योजना, आपके लिए उपयोगी हैं ये चार बातें

कोरोना महामारी में कैसे करें अपनी फाइनेंशियल प्लानिंग, आपके काम की हैं ये चार बातें

Manage Financial Crisis - कोरोना महामारी में कैसे करें अपनी वित्तीय योजना, आपके लिए उपयोगी हैं ये चार बातें
Manage Financial Crisis

Manage Financial Crisis - वित्तीय संकट का प्रबंधन करें

हालाँकि, इस महामारी से निपटने के लिए प्रयास जारी हैं। इसके अलावा, इस कठिन समय का सामना करने के लिए, हमें भविष्य की तैयारी करनी होगी।

Onlinenews - कोविद -19 महामारी ने दुनिया को पंगु बना दिया है। यह शायद पिछले 75 वर्षों के सबसे बड़े संकटों में से एक है। हालांकि, इस महामारी से निपटने के प्रयास किए जा रहे हैं। साथ ही, इस कठिन समय से निपटने के लिए, हमें आने वाले समय के लिए अभी से तैयारी करनी होगी। यह महामारी हमें अपनी वित्तीय जरूरतों की समीक्षा करने और हमारी वित्तीय योजनाओं का पुनर्मूल्यांकन करने के लिए प्रोत्साहित करती है। आइये जानते हैं इस कोरोना के समय में हमें क्या करना चाहिए। 

ये भी पढ़ें - कोरोना जैसी अजीब स्थिति में नुकसान से बचने का क्या है तरीका? जानिए विशेषज्ञ की राय

इस वित्तीय संकट में आपके लिए उपयोगी हैं ये चार बातें

अपनी बीमा आवश्यकताओं को पुनर्गणना करें

एक अच्छी स्वास्थ्य बीमा योजना सभी के लिए जरूरी है। यदि यह पारिवारिक बीमा है, तो कवरेज निश्चित रूप से 5 लाख रुपये से अधिक होना चाहिए। निवेशकों को कवरेज की मात्रा बढ़ाने के लिए कम लागत वाले टॉप-अप बीमा पर विचार करना चाहिए। साथ ही, पैसा कमाने वाले परिवार के सदस्य के लिए पर्याप्त बीमा आवश्यक है।

अपने वित्तीय लक्ष्य को फिर से चिह्नित करें

यात्रा और बड़े सामाजिक सम्मेलन दो चीजें हैं जो इस संकट के कारण बंद हो गई हैं। बहुत से लोग छुट्टियों को अपने शीर्ष वित्तीय लक्ष्यों में से एक मानते हैं। इसके अतिरिक्त, पारिवारिक कार्यों पर खर्च में काफी कमी आई है। बड़े आपातकालीन फंड बनाने के लिए वेकेशन फंड और बिग फैमिली फंक्शन फंड के अतिरिक्त पैसे का उपयोग करें। इसके अलावा, अपने अन्य महत्वपूर्ण वित्तीय लक्ष्यों का फिर से मूल्यांकन करें।

ये भी पढ़ें - कोरोना काल में, आपको ये वित्तीय गड़बड़ी भूलकर भी नहीं करनी चाहिए, होगा नुकसान

आपातकालीन फंड बढ़ाएं

छह महीने के खर्च के बराबर एक आपातकालीन फंड होना पर्याप्त नहीं है। इस प्रकार का संकट लोगों को लंबे समय तक अपनी नौकरी से दूर रख सकता है और बड़े अप्रत्याशित चिकित्सा खर्चों को भी जन्म दे सकता है। हमें बुरे दौर से गुजरने और सामान्य जीवन जीने के लिए जरूरी इंतजाम करने के लिए भी तैयार रहना चाहिए। कम से कम दो साल के खर्चों का एक आपातकालीन फंड होना चाहिए ताकि भविष्य की विषम परिस्थितियों से लड़ने के लिए हमें पर्याप्त सुरक्षा मिल सके।

अपने बजट का पुनर्मूल्यांकन करें

इस महामारी में आवश्यक और लक्जरी खर्चों के बीच के अंतर को स्पष्ट करें। लोगों को इसे अपने बजट में लॉक करने और अनावश्यक खर्चों में कटौती करने के अवसर के रूप में उपयोग करना चाहिए। इससे हमें अतिरिक्त बचत का एहसास करने में मदद मिलेगी जिसका उपयोग निवेश बढ़ाने या बहुत आवश्यक बीमा कवरेज खरीदने के लिए किया जा सकता है।

बिजनेस न्यूज की नवीनतम समाचार, Business Knowledge,Banking,Insurance, Savings & Investment की Latest online news सबसे पहेले पढ़ें Onlinenews.live पर

Calculate Love Percentage with True Love Online - Click Here

Post a comment

0 Comments