अगर आयकर रिटर्न दाखिल करने में हो गई है कोई चूक तो आसानी से कर सकते हैं सुधार, जानिए क्या है प्रक्रिया

आयकर रिटर्न दाखिल करने में हो गई है कोई चूक तो आसानी से कर सकते हैं सुधार

अगर आयकर रिटर्न दाखिल करने में हो गई है कोई चूक तो आसानी से कर सकते हैं सुधार, जानिए क्या है प्रक्रिया
ITR Filing Mistakes

ITR फाइलिंग गलतियाँ आप आसानी से सुधार कर सकते हैं

ITR Filing Mistakes - आयकर रिटर्न दाखिल करने में कोई चूक हुई है तो आप आसानी से सुधार कर सकते हैं

Onlinenews ✔आयकर रिटर्न पूरा करने के बाद, अगर आपको ऐसा लगता है कि ITR भरने में कोई चूक हो गई है या कुछ महत्वपूर्ण चीज भरना रह गया है, तो आपको चिंता करने की आवश्यकता नहीं है। आप आयकर विभाग के ई-फाइलिंग पोर्टल से एक निश्चित अवधि के भीतर अपना ITR सुधार सकते हैं। हालांकि, यदि आपने मैन्युअल आइटीआर भरा है, तो आप इसे इलेक्ट्रॉनिक या ऑनलाइन सुधार नहीं कर पाएंगे। संशोधित आईटीआर आयकर अधिनियम की धारा 139 (5) के तहत भरे गए आईटीआर में सुधार को संदर्भित करता है।

ये भी पढ़ें - LIC Policies में निवेश कितना है सुरक्षित, सरकार ने बताया संसद में, आप भी जानिए

संशोधित आईटीआर ऑनलाइन भरने की स्टेप-बाय-स्टेप प्रक्रिया इस प्रकार है:

  1. सबसे पहले, आयकर विभाग के ई-फाइलिंग पोर्टल https://www.incometaxindiaefiling.gov.in/home पर लॉग ऑन करें।
  2. अपने पैन नंबर, पासवर्ड और कैप्चा कोड के साथ इलेक्ट्रॉनिक फाइलिंग पोर्टल पर लॉग इन करें।
  3. 'E-File' मेनू पर क्लिक करें और फिर 'Income Tax Return' लिंक पर क्लिक करें।
  4. Income Tax Return पेज पर आपका पैन नंबर अपने आप भर जाएगा।
  5. अब असेसमेंट ईयर और आइटीआर फॉर्म नंबर चुनें। 
  6. अब 'फाइलिंग टाइप' में 'ओरिजिनल/ रिवाइज्ड रिटर्न' के विकल्प को चुनें।
  7. इसके बाद 'सबमिशन मोड' में 'Prepare and Submit Online' पर क्लिक करें। 
  8. 'जनरल इन्फॉर्मेशन' टैब के अंतर्गत ऑनलाइन आइटीआर फॉर्म में 'Return Filing Section' में 'रिवाइज्ड रिटर्न अंडर सेक्शन 139(5)' और 'Return Filing Type' में 'Revised' को चुनें। 
  9. अब ओरिजिनल आइटीआर में दर्ज 'एकनॉलेजमेंट नंबर' और आइटीआर फाइल करने की तारीख को चुनें। 
  10. अब संबंधित जानकारी भरें और फिर सुधार करें और ITR को सबमिट कर दीजिए।  
  11. रिटर्न को ई-वेरिफाई करिए। 

Income Tax Return की इलेक्ट्रॉनिक वेरिफाई करने की प्रक्रिया इस प्रकार है:

Aadhaar OTP के जरिए: आईटीआर फाइल करने के लिए आपको आधार को पैन से लिंक करना होगा। ऐसी स्थिति में करदाता ई-फाइलिंग पोर्टल पर लॉग इन करने के बाद 'जनरेट आधार ओटीपी' पर क्लिक कर सकते हैं। अब आपको पंजीकृत मोबाइल नंबर पर ओटीपी प्राप्त होगा। यह ओटीपी केवल 10 मिनट के लिए वैध होगा। आइटीआर को वेरिफाई करने के लिए निर्दिष्ट स्थान पर ओटीपी डालें। इसके बाद, आपको पंजीकृत ईमेल आईडी पर एकनॉलेजमेंट प्राप्त होगा।

ये भी पढ़ें - पैसा भेजना था किसी के खाते में और आपका भेजा पैसा चला गया दूसरे के खाते में, तो क्या करें, जानें

E-Filling Portal के जरिए जेनरेट किए गए EVC के माध्यम से: यदि आपकी आय पांच लाख रुपये से कम है, तो आप अपने आईटीआर को ई-फाइलिंग पोर्टल के माध्यम से वेरिफाई कर सकते हैं।

बिजनेस न्यूज की नवीनतम समाचार, Business Knowledge,Banking,Insurance, Savings & Investment की Latest online news सबसे पहेले पढ़ें Onlinenews.live पर

Calculate Love Percentage with True Love Online - Click Here

Post a comment

0 Comments