अपने पति के भरोसे नहीं छोड़े वित्तीय योजना, महिलाएं ऐसे बनाएं निवेश की प्लानिंग

महिलाएं, अपने पति के भरोसे नहीं छोड़े वित्तीय योजना

अपने पति के भरोसे नहीं छोड़े वित्तीय योजना, महिलाएं ऐसे बनाएं निवेश की प्लानिंग
Personal Finance

महिलाएं, ऐसे बनाएं निवेश की प्लानिंग 

महिलाओं को पीढ़ियों से, पति के घर पर वित्तीय निर्णय लेने का अधिकार ज्यादातर पतियों के पास ही होता है। महिलाओं को अक्सर इन फैसलों में थोड़ा हस्तक्षेप दिखाई देता है।

Onlinenews| महिलाओं को पीढ़ियों से, पति के घर पर वित्तीय निर्णय लेने का अधिकार ज्यादातर पतियों के पास ही होता है। महिलाओं को अक्सर इन फैसलों में थोड़ा हस्तक्षेप दिखाई देता है। हालांकि, समय बदल गया है और महिलाएं किसी भी क्षेत्र में पुरुषों से पीछे नहीं हैं। ऐसी स्थिति में, वित्तीय निर्णय लेने और भविष्य की योजनाओं की प्लानिंग आखिर सिर्फ पति पर क्यों छोड़ी जाए, पत्नियों को भी इस ओर सजगता के साथ कदम उठाने की जरूरत है।

ये भी पढ़ें - वरिष्ठ नागरिक यहां करें निवेश, ये हैं चार निवेश विकल्प, होगा मोटा मुनाफा

यूबीएस ग्लोबल द्वारा प्रकाशित एक सर्वेक्षण रिपोर्ट के अनुसार, पति भविष्य के लिए योजना बनाने में लापरवाह हैं, ऐसी स्थिति में सिर्फ उनके भरोसे वित्तीय योजनाओं को छोड़ना उचित नहीं होगा। हालांकि, अभी भी महिलाओं का एक बड़ा क्षेत्र है, जो अपने पति की सलाह को महत्व देते हैं, खासकर आर्थिक मामलों में।

महिलाओं की क्या है राय 

सर्वेक्षण 1800 से अधिक विवाहित पुरुषों और महिलाओं पर आयोजित किया गया है। इनमें से लगभग आधी महिलाओं ने प्रमुख वित्तीय निर्णयों और भविष्य के निवेश निर्णयों में अपने पति का साथ देने की बात कही। सर्वेक्षण में भाग लेने वाली महिलाओं का कारण यह था कि वे नहीं जानतीं कि कहां से शुरू करें। कुछ महिलाओं ने उल्लेख किया कि वे किसी बहस में नहीं पड़ना चाहतीं है। सर्वेक्षण में शामिल 60 प्रतिशत महिलाओं ने कहा कि वित्तीय फैसलों में अपने जीवनसाथी पर भरोसा करना बेहतर है। इस सर्वेक्षण में पता चला है कि भविष्य के लिए योजना बनाने के दौरान पति थोड़ा लापरवाह होते हैं। ऐसी स्थिति में, पत्नियों को इस तरह के फैसलों में भाग लेने के लिए आगे आना चाहिए।

 ये भी पढ़ें - निवेश या बीमा वित्तीय योजना में क्या है ज्यादा जरूरी, जानिए

आज से ही शुरू करें निवेश की शुरुआत

तथ्य यह है कि महिलाएं पुरुषों की तुलना में अधिक समय तक जीवित रहती हैं और उनके बुढ़ापे में अकेले रहने की संभावना अधिक होती है। ऐसे में वित्तीय मजबूती बहुत जरूरी है। इसलिए, इस अध्ययन में कुछ महिलाओं की तरह, आप भी यह नहीं जानती हैं कि कहां से शुरू करें। तो आज से ही इसके बारे में सोचना शुरू कर दें। आपको वास्तव में अपने निवेश, जीवन बीमा जैसे कारकों पर ध्यान देना चाहिए।

वित्तीय निर्णयों में सक्रिय भागीदार बनें।

कोरोना काल में, पुरुषों की तुलना में महिलाओं ने अपनी नौकरी खो दी है। ऐसी स्थिति में, यदि आप स्वयं को पति के वित्तीय निर्णयों से बाहर पाती हैं, तो एक सक्रिय भागीदार के रूप में ऐसे निर्णयों में शामिल हों। क्योंकि ऐसे फैसले आपके वित्तीय जीवन को एक साथ प्रभावित करते हैं।

ये भी पढ़ें इस योजना में प्रति दिन 7 रुपये जमा कर पा सकते हैं 5,000 रुपये की मासिक पेंशन

इस तरह से करें विचार 

बस एक पल के लिए खुद को अंधेरे में अकेला छोड़ दें और कल्पना करें कि आपको वर्षों के बाद स्वतंत्र रूप से वित्त का प्रबंधन करने की आवश्यकता है। या अपने रिश्ते से बाहर निकलने पर विचार करें। उन परिसंपत्तियों के विभाजन और खातों में अपनी स्वयं की पहुंच पर विचार करें। इस अभ्यास का उद्देश्य आपके जीवन में चिंता को जोड़ना नहीं है, लेकिन वित्तीय निर्णयों के बाद आँख बंद करके इसमें शामिल जोखिमों को समझना आवश्यक है। इसके माध्यम से आपको वित्तीय प्रबंधन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए प्रेरित किया जा सकता है।

अपने ज्ञान का विस्तार करें

वित्तीय प्रबंधन से संबंधित अपने ज्ञान का विस्तार करना बहुत महत्वपूर्ण है। अपने साथी के साथ इन मुद्दों पर चर्चा करें। निवेश और दीर्घकालिक वित्तीय योजनाओं के बारे में नई चीजें सीखने के लिए प्रतिबद्ध हैं। उदाहरण के लिए, सेवानिवृत्ति के लिए धन जोड़ने के अलावा, नौकरी छूटने जैसी आपात स्थितियों के लिए वित्तीय योजनाओं पर विशेष ध्यान दें।

ये भी पढ़ें - Health Insurance पॉलिसी खरीदते समय इन पांच बातों का रखें ध्यान

सलाह लेने में सावधानी

अपने साथी के साथ बातचीत करें, वित्तीय प्रबंधन और भविष्य की निवेश योजनाओं में उनकी रुचि बढ़ाएं। यह मुश्किल नहीं होगा। आपको अपने पति को यह समझाने की कोशिश करनी होगी कि आप इन मुद्दों पर उसके संपर्क में रहना चाहते हैं। ऑनलाइन टूल का उपयोग करें जो आपको एक ही स्थान पर अपने सभी खाते की शेष राशि और नकदी प्रवाह को देखने में मदद कर सकते हैं, जैसे व्यक्तिगत इक्विटी या जीटा।

लेटेस्ट टेक न्यूज़बिज़नेस ऑनलाइन न्यूज़, शेयर बाजार, व्यवसाय ज्ञान, बैंकिंग और ऋण, स्टॉक मार्केट, पैसा, वित्त, बीमा, बचत और निवेश पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

Calculate Love Percentage with True Love Online - Click Here

Post a comment

0 Comments